किताब जल्दी कैसे पढ़े | 9 Tips for How to Read Faster Without Losing Comprehension.

दोस्तो आपको याद होगा 1996 में एक फ़िल्म “Phenomenon” जो John Travolta की थी। याद नही है। कोई बात नही मुझे भी नही है। परंतु उसका trailer याद है मुझे।
उस फ़िल्म में John ने अपने दिमाग को ऐसे train किया था। जिससे वो एक दिन में 2-3 किताबे पढ़ लेता था। हा ये सच है कि वो अपने दिमाग के पावर से और भी दूसरी अद्भुत चीज़े करता था।

दोस्तो मैं एक और शख्स की बात करना चाहूंगा जिसने ढेर सारी किताबे पढ़ पढ कर ही कई कंपनीया बनाई है जैसे: SpeceX, Tesla Moter, PayPal etc. आज दुनिया के सबसे पावरफुल लोगो मे उनका नाम है। आप समझ ही गये होंगे मैं किसकी बात कर रहा हु। ठीक समझा अपने, वो है इस सदी का सबसे बड़ा पावरफुल बिजनेसमैन Elon Musk.

काम चाहे वो कितना भी कठीन क्यो न हो आप उस काम मे निपूर्णनता हासिल कर सकते हो। अगर आप अपने दिमाग को train कर लेते हो तो। हम यहा बात कर रहे है समझ कर जल्दी से किताब कैसे पढ़े। आइये इसको अच्छे से समझते है।

दो महत्वपूर्ण tools है जो आपको किताब पढ़ने में सहायता करते है।

* आपकी आंखें,
* आपका दिमाग़ ।

बुक्स जल्दी कैसे पढ़े। आइये इसको 9 महत्वपूर्ण वाक्यो में समझते है।

1.बोल बोल कर ना पढ़े।

दोस्तो हमारी बचपन से आदत होती है कि हम हर शब्द देख देख कर और बोल कर ही पढ़ते है। और हमे कहा भी जाता है की देख देख कर पढ़ा करो। दोस्तो हमे देख कर तो पढ़ना पड़ेगा ।
पर ये जरूरी तो नही की हम बोल कर ही पढ़े। स्पीड़ब्रेकर का काम करता है जब हम बोल कर पढ़ते है। ये हमारी पढ़ने की गति को रोकता है।
हमारा दिमाग एक समय मे एक ही काम करता है।
दोस्तो एक समय मे हमे पढ़ना भी है और समझना भी। केवल शब्द देखे और आगे बढ़े। आपके केवल देखने मात्र से वो शब्द आपके Sub-conscious माइंड में पहुच जाए ऐसे train करना होगा माइंड को।
आप सोच रहे होंगे ये कैसे संभव है। तो है ये संभव है। ध्यान रखे अभी हम जल्दी पढ़ने की ट्रेनिंग ले रहे है।

2. अपने लिए एक निश्चित समय सीमा तय करे।

दोस्तो अपने लिए एक निश्चित समय सीमा तय करे।अगर देखा जाय तो एक सामान्य व्यक्ति को एक पेज पढ़ने के लिए 5 से 10 मिनट्स लगते है। वही एक स्पीड रीडर के लिए वही पेज पढ़ने के लिए 2 से 3 मिनट्स से भी कम का समय लगता है।
जब आप एक निश्चित समय सीमा रखेंगे तो निश्चित ही आप उसे पाने के लिए कोशिस करेंगे। इस आर्टिकल में बताये गए सारे पॉइंट को ध्यान से पढ़े।

3. पढ़ते समय पेंसिल का उपयोग करे।

aloxpower

ये बहोत ही जरूरी होता है खास कर जब हम बात करते है जल्दी पढ़ने की तो हमे पिछले शब्द या लाइन को नही पढ़ना है। इसके लिए आप अपने हाथ की उंगली या पेंसिल का उपयोग कर सकते है।
पेंसिल या उंगली जिस शब्द पर रख रहे है इसका मतलब ये है कि आप उस शब्द को पढ़ रहे है और उसके आगे जाने वाले है पीछे नही।

4. ध्यान को नियंत्रित रखे।

कई बार ऐसा होता जब हम पढ़ना सुरु करते है तो हमारे दिमाग मे और भी कई सारी बाते घूमने लगती है। दूसरे और पिछली कई सारी बाते याद आने लगती है। इससे हम ठीक से ना पढ़ पाते है ना पढ़ा हुआ याद रख पाते है।

हमे चाहिए कि हम अपना ध्यान पढ़ने में केंद्रित करें। चुकी हमे किताब पढ़नी भी है और समझनी भी है तो निश्चित रूप से हमारा ध्यान पढ़ने में होना चाहिए। कई बार ऐसा होता है कि पिछली लाइन या पढ़ा हुआ भी repeat होने लगता है। हमे पढ़ा हुआ दोहराना नही चाहिए।

5. अपनी आंखों पर नियंत्रण रखें।

खास कर पढ़ते समय हमें अपनी आंखों पर नियंत्रण नही रहता। हमारी आँखे कही भी एक शब्द से, एक लाइन से हट कर पूरी किताब में कही भी चली जाती है। या फिर हम ठीक से किसी शब्द या sentence को एक बार मे देख ही नही पाते।

ये हम अपनी आंखों को train करके, प्रैक्टिस से आंखों को नियंत्रित किया जा सकता है। जिससे हम पढ़ते समय केवल पढ़ाई पर ध्यान दे। और जल्दी से जल्दी किताब पढ़ सके।

6. छोटे और अनुपयोगी शब्दो को ध्यान ना दे।

देखा जाए तो किताब में कोई शब्द अनुपयोगी नही होते, हर 4शब्द का अपना महत्व होता है। परंतु हमारा लक्ष है तेज पढ़ना तो निश्चित रूप से ऐसे बहोत से शब्द होते है जिनको पढ़ते समय ध्यान देने की जरूरत नही होती। वो शब्द अपने आप ही आपके माइंड में आ जाएंगे।

जैसे कि sentence के लास्ट में आने वाले शब्द। जैसे: हमे किताबे पढ़नी चाहिये। यहा वाक्य पढ़ते ही आपके माइंड को पता चल जाता है कि वाक्य के अंतिम शब्द क्या होगा।

छोटे शब्दो से मेरा अर्थ है वाक्य के बीच मे आने वाले छोटे शब्द जैसे “में”, ” इन”, “तो”, “की”, और भी कई सारे है। जब भी आप किताब पढ़े तो इन शब्दों को ज्यादा ध्यान ना दे। ये शब्द वाक्य पढ़ते समय आपके माइंड में अपने आप आ जाएंगे। और इस प्रकार आप अपने पढने की गति को बडा सकते है।

7. अभ्यास एक शाक्तिशाली औजार है।

दोस्तो आपको पता होगा हमारा माइंड कुछ भी सिख सकता है। माइंड ये नही बोलता की ये मेरा सब्जेक्ट नही है। या मैं इसे नही समझ सकता , नही सिख सकता।

आप अपने माइंड को किसी भी सब्जेक्ट में train कर सकते हो। इसके लिए जरूरी है कि आप ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करें।

आप इसे एक पावरफुल औजार के रूप में इस्तेमाल करे। और ये सुनिश्चित कर ले कि अच्छा और सुनियोजित अभ्यास कर लेने के बाद सफल होना ही है।

8. अवलोकन करें।

दोस्तो जब भी कोई किताब पढ़नी सूरी करे तो सबसे पहले पूरे पेज को एक नज़र में पढ़ ले। इसका मतलब एक नज़र में ऊपर नीचे या कुछ खास बड़े छोटे अक्षरो में लिखा हो उसे जल्दी से पढ़ ले।

जैसे हम किसी पेज का स्कैनिंग करते है वैसे ही पढ़ने से पहले पूरे पेज का स्कैनिंग कर ले। ये कुछ सेकंडों का स्कैनिंग आपका बहोत सा टाइम बचा सकता है। जिससे आपके पढ़ने की स्पीड बढ़ जायेगी।

9. निरंतर अभ्यास करे।

aloxpower

अभ्यास कितना जरूरी है ये हमने जान लिया पर उसके साथ ही निरंतर अभ्यास बहोत जरूरी होता है। ये आपको हर समय सफल बनायें रखता है। एक फिक्स टाइम टेबल बना ले कि आपको रोज 15 से 20 मिनट पढ़ना है।

अभ्यास से ही आपका स्किल बरकार रहता है कि आपको क्या आता है या आप क्या कर सकते हो। अपने काम को निरंतर करते रहे।निश्चित रूप से आपको सफलता मिलेगी।

सारांश:

हम अपने माइंड को किसी भी विषय मे train कर सकते हैं। और हम उस विषय मे निपूर्णनता हासिल कर सकते है। आप आज एक पेज 3 मिनट में पढ़ते है हो सकता है कल आप अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दे।

दोस्तो मैं कहता हूं आप सही दिशा में मेहनत करे। मेरी सुभकामना आपके साथ है । आप सफल बने। चैंपियन बने।

8 thoughts on “किताब जल्दी कैसे पढ़े | 9 Tips for How to Read Faster Without Losing Comprehension.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *